दोस्त की बीवी की गांड में ऊँगली

Discussion in 'Hindi Sex Stories - हिंदी सेक्स कहानियाँ' started by SexStories, Sep 14, 2017.

  1. SexStories

    SexStories Active Member

    MyIndianSexStories

    हैल्लो दोस्तों, आप सबको मेरा नमस्कार. में आज आपको मेरी आप बीती स्टोरी सुनाऊँगा. अनिल और में आपस में बेस्ट फ्रेंड है, उसकी बीवी संगीता इतनी सुंदर तो नहीं है, लेकिन उसकी गांड मोटी है. जब वो चलती है तो उसकी गांड ऊपर नीचे होती है, तो मेरा लंड अकसर खड़ा हो जाता है. मुझे वैसे भी गांड मारना अच्छा लगता है क्योंकि मेरी बीवी कुसुम गांड नहीं मरवाती है, हालाँकि उसकी गांड का मुकाबला कोई नहीं कर सकता है.

    अनिल को कुछ ज़्यादा ही काम रहता है इसलिए वो ज़्यादातर फेक्ट्री में ही रहता है. फिर एक दिन रविवार की रात को हम अनिल के घर मिलने गये. अब आपस में बातें करते- करते बहुत रात हो गई थी. फिर संगीता बोली कि में चाय लेकर आती हूँ, तो अनिल पेशाब करने बाहर चला गया. तो संगीता ने अनिल को आवाज़ लगाई कि अनिल अंदर आकर शक्कर का डब्बा उतार दो.

    अब अनिल तो पेशाब करने गया था इसलिए में अंदर चला गया और शक्कर का डब्बा उतारने लगा. तो अचानक से संगीता का पैर फिसल गया और वो एकदम से मेरी बाँहों में आकर झूल गई. फिर उसकी चूची पर मेरे दोनों हाथ लग गये और उसकी गांड मेरे लंड से टकराई, तो इस अजीब सी हरकत से मैंने उसकी गांड में अपनी ऊँगली डाल दी.

    इस पर वो जो बोली उस पर मुझे विश्वास नहीं हुआ, वो बोली कि अगर उंगली ही डालनी है तो अच्छी तरह से डालो, ताकि मजा तो आए. फिर इतने में उसने अपनी साड़ी ऊँची कर दी और अपनी गांड मेरे सामने कर दी. फिर मैंने भी बिना समय गँवाए उसकी गांड में अपनी उंगली और उसकी चूत में दूसरी उंगली डाल दी. फिर वो जोर से चिल्लाई उउईई उूउउईईई और फिर हम दोनों बाहर आकर चुपचाप चाय पीने लगे.

    फिर करीब 2 महीने के बाद मेरी बीवी कुसुम छुट्टियों में अपने मायके चली गई और मम्मी उनके गावं में चली गई. फिर एक दिन अनिल ने कहा कि यार आज रात तो अंडा-करी की सब्ज़ी खाएंगे, मेरी संगीता शाम को तेरे घर आकर सब्ज़ी बना देगी, तू घर की चाबी संगीता का दे जाना. फिर करीब 4 बजे संगीता मेरे घर आ गई, अब में भी 4:30 बजे घर पर आ गया था, तो मुझे देखकर संगीता मुस्कुराई, तो में समझ गया कि आज तो दाल में काला है.

    संगीता बोली कि अनिल का फोन आया था कि आज काम ज़्यादा है इसलिए वो रात को देर से आएगा और महेश से कहना कि वो और तुम खाना खा लेना. अब संगीता के बच्चे भी अपनी नानी के घर चले गये थे. फिर संगीता बोली कि महेश में नहाकर खाना बनाउंगी इसलिए में नहाने के लिए आपका बाथरूम काम में ले रही हूँ और फिर वो बाथरूम में नहाने चली गई. फिर में टी.वी में अपना सी.डी प्लेयर लगाकर ब्लू फिल्म देखने लग गया.

    फिर थोड़ी देर के बाद संगीता नहाकर बाहर आई तो उसने केवल पतला सा गाउन पहन रखा था. फिर वो बोली कि मुझे गर्मी लग रही है इसलिए मैंने यह पहना है. अब उसके गाउन में से उसकी चूचीयों के निप्पल साफ-साफ़ दिख रहे थे और उसकी चूत तो इतनी क्लीन शेव थी कि जैसे 18 साल की गर्ल हो और उसकी मोटी गांड का तो कहना ही नहीं था. फिर मैंने संगीता से कहा कि भाभी में भी नहाकर आता हूँ और फिर में भी बाथरूम में चला गया और मेरा सी.डी प्लेयर चलता रहा. फिर जब में नहाकर बाहर आया तो संगीता मेरी सी.डी प्लेयर देखकर अपनी चूत में ऊँगली कर रही थी.

    संगीता बोली कि आप किचन में मेरी मदद करवाओ. फिर मैंने कहा कि पहले हम दोनों बिल्कुल नंगे होकर किचन में जाएंगे. तो संगीता ने झट से अपना गाउन उतार दिया और मैंने भी अपने कपड़े उतार दिए. फिर इतने में मैंने संगीता को अपनी बाँहों में पकड़ लिया तो वो बोली कि यह आप क्या कर रहे हो? तो मैंने कहा कि जो करना चाहिए है.

    अब मेरे सिर पर तो उसकी गांड का भूत सवार था तो मैंने वही किचन में संगीता को घोड़ी बना दिया और उसकी गांड को चाटने लगा. फिर संगीता ने अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ लिया और बोली कि में पहले इसका जूस पीऊँगी. फिर मैंने कहा कि नहीं पहले में तेरी गांड मारूँगा, तो वो बोली कि नहीं मेरी गांड फट जाएंगी. फिर मैंने उसकी गांड में बोरोलिन की ट्यूब डालकर पिचका दी, तो सारी की सारी बोरोलिन उसकी गांड में लग गई और फिर मैंने अपना 6 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा लंड उसकी गांड के मुँह पर लगा दिया. मेरा लंड देखकर संगीता बोली कि इतना लंबा और मोटा लंड.

    मैंने जोर से एक धक्का मारा और मेरा 2 इंच लंड उसकी गांड में चला गया तो वो जोर से चिल्लाई हाईईईईईईई आआ दर्द हो रहा है. फिर मैंने फिर से एक धक्का मारा तो इस बार मेरा 5 इंच लंड उसकी गांड में चला गया.

    अब संगीता गंदी-गंदी गालियाँ बकने लगी थी और बोली कि मादरचोद, बहन के लंड, तेरी माँ की चूत मार, मुझे छोड़ दे, या मेरी चूत मार, मेरी गांड तो आज फट ही जाएंगी. फिर में बोला कि तेरी गांड मारकर तेरी चूत भी माँरूँगा, लेकिन माँ की लोढ़ी ज़्यादा लंड खाएगी तो तेरी चूत का भुर्ता बना दूँगा और फिर मैंने इस बार मेरे लंड को वापस से बाहर निकालकर फिर से थोड़ा तेल मेरे लंड पर लगाकर एक बार फिर उसकी गांड में मेरा लंड घुसा दिया, तो इस बार मेरा पूरा का पूरा लंड संगीता की गांड में चला गया. फिर संगीता बोली कि और मेरी गांड में जोर से डालो, वास्तव में अब बहुत मज़ा आ रहा है.

    मैंने आगे की तरफ झुककर उसकी चूत में अपनी दो उंगलियाँ डाल दी और इस तरह उसकी गांड में लंड और उसकी चूत में अपनी उंगली डालकर उसको चोदता रहा. फिर 10 मिनट के बाद संगीता बोली कि अब मेरी बारी है, में आपको खुश कर दूंगी. फिर वो मुझे कुर्सी पर बैठाकर मेरे लंड को अपने मुँह में डालकर लॉलीपोप की तहर चूसने लगी. अब मुझे इतना मज़ा आ रहा था कि मत पूछो और फिर हम दोनों ने आगे भी जब कभी कोई मौका मिला तो बहुत सेक्स किया.

    2016 Best Telugu Sex Stories
     
Loading...